History Of Trade And Commerce Class 11 Notes In Hindi

History Of Trade And Commerce in Hindi

 

आर्थिक विकास वह किसी क्षेत्र में वाणिज्यिक विकास इन दोनों के माध्यम से एक प्राकृतिक प्रवेश का निर्माण होता है यह किसी क्षेत्र में आर्थिक क्रियाओं के विकास में बहुत अधिक सहायक होता है

 

इस लेख के माध्यम से मैंने history of trade and commerce in india class 11 व  history of trade and commerce class 11 pdf, history of trade and commerce class 11 notes in hindi के बारे में बताया है

 

 

भारत का व्यवसायिक मार्ग जोकि हिमालय और हिंद महासागर बंगाल की खाड़ी से मिलकर बनता है उसे रेशमी राह भी कहा जाता है यह भारत के लिए एक प्राकृतिक प्रवेश का निर्माण करता है जो कि व्यापार और आर्थिक क्रियाओं में सहायक है

 

 

यहां से एशिया के कई देशों में भारत द्वारा व्यापार किया जाता है इससे भारत के राजनैतिक संपर्क भी स्थापित होते हैं इसी तरह भारत में मसाले के व्यापार के लिए मसाला मार्ग जोकि पूर्व और पश्चिम के समुद्री मार्ग को कहा जाता है

 

 

प्राचीन काल में भी भारत व्यापार और वाणिज्य का एक महान केंद्र था यहां से कई वस्तुओं का निर्यात किया जाता था 

 

 

भारत में स्वदेशी बैंकिंग प्रणाली का भी विकास हुआ यह आर्थिक विकास में बहुत सहायक थी भारत में पहले मुद्रा के रूप में धातु के टुकड़ों का प्रयोग किया जाता था इनमें बहुत कमियां थी तथा इन कमियों में सुधार करके एक नई मुद्रा का निर्माण किया गया पहले हुंडी व चित्ती का भी उपयोग किया जाता था इसमें किसी लेनदेन का विवरण होता था और यह एक आदेश पत्र था जो कि किसी व्यक्ति को भुगतान करने के लिए उपयोग में लिया जाता था इसकी कुछ विशेषताएं थी

इसमें किसी भी प्रकार की शर्त नहीं दी गई थी

इसके हस्तांतरण में भी सुविधा थी

 

 

यह भी पढ़े – 

 

Class 11 [Business Studies] Chapter 1 Notes in Hindi

Depreciation Kya Hai [Methods, Examples Formula]

Commerce Kya Hai [Business Studies]

 

मध्यस्थों का उदय – Rise Of MiddleMen Class 11

 

व्यापार के विकास के लिए मध्यस्थों ने भी बहुत अच्छी भूमिका निभाई है यह निर्माताओं को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करते थे इनमें कमीशन एजेंट दलाल फुटकर आदि शामिल थे इसी समय जगत सेठ नामक एक संस्था का भी विकास हुआ 

 

परिवहन

 

प्राचीन काल में दो तरह के परिवहन का प्रचलन था पहले जल और स्थल परिवहन का बहुत अधिक प्रचलन था तथा व्यापार के लिए इन दोनों का बहुत अधिक उपयोग किया जाता था

 

कालीकट यह एक व्यस्ततम व्यापार का केंद्र था यहां कपास मोती हीरे आवश्यक तेल आदि का व्यापार किया जाता था इसके अलावा कई अन्य अभी व्यापार के समुद्री तट थे जैसे कोरोमंडल तट पुलीकट बंदरगाह आदि है

 

 

इस लेख के माध्यम से मैंने history of trade and commerce in india class 11 व  history of trade and commerce class 11 pdf, history of trade and commerce class 11 notes in hindi के बारे में बताया है यदि यह लेख आपको पसंद है तो आप इसे शेयर जरुर करे आपके मन में इस लेख से सम्बंधितकिसी भी तरह का सवाल है तो आप इसे निचे दिए गये कमेंट बॉक्स में अपने सवाल को कमेंट करके हमसे पूछ सकते है मैं आपके द्वारा पुछे गये सवाल का जबाब जरुर दूंगा

This Post Has One Comment

Leave a Reply